Two line shayari

तुम्हे पाया है बड़ी मुश्किल से यूँ ना खोने दूंगा
तुम मेरी हो तुम्हे और किसी की ना होने दूंगा

=============================

पानी मैं मत पत्थर मारो उसे भी कोई पीता होगा
सदा खुश रहो आपकी याद मैं भी कोई जीता होगा

=================================

दुश्मनी ने दोस्ती का सिलसिला रहने दिया
उसके सारे ख़त जल गए और पता रहने दिया

==================================

हम तुम्हे भूल जाये इतना हम मैं दम नहीं
तुम हमें भूल जाओ इससे बड़ा कोई गम नहीं

==================================

मेरे इश्क की मंजिल बता दो मुझको
मैं सभल के गिरा हूँ उठा दो मुझको

===============================

0 comments: