कल तक जोअजनबी था

कल तक जोअजनबी था
आज उसे चाहने को दिल चाहता है
जिन्दगी बचाने वाले आज तुझ पर
मर जाने को जी चाहता है
===================

0 comments: