महफ़िल मैं वो आ बैठे है
अपने हांथो मैं मेरा दिल दबाये बैठे है
जो पूंछा हमने की आपके हाथो मैं क्या है
तो बहाना बना दिया की मेंहदी लगाये बैठे है
=============================

0 comments: